BREAKING NEWS
post viewed 365 times

उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में बादल फटने से 4 लोगों की मौत, सेना के 7 जवान लापता

uttrakhand-cloudburst

बादल फटने के बाद कैलाश मानसरोवर की यात्रा रोक दी गई है

नई दिल्ली| उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में मालपा के पास बादल फटने से अचानक बाढ़ आने से 11 लोग लापता हो गए. इनमें से चार लोगों के शव बरामद हो गए हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार सेना के सात जवान अब भी लापता हैं. दो जवान और एक जेसीओ को मलबे से सकुशल निकाल लिया गया है. बादल फटने के बाद कैलाश मानसरोवर की यात्रा रोक दी गई है.

बादल फटने की घटना रात करीब 3 बजे घटी. एक हिंदी पोर्टल की खबर के अनुसार मांगती में 2 पुल बह गए हैं, 1 सिमखौला में बह गया है. काली नदी खतरे के निशाने से ऊपर चल रही है. अलागढ़ में रोड ब्लॉक हो गया है.  वहीं राहत और बचाव कार्य एसएसबी के आईजी, डीआईजी समेत 11वीं बटालियन के अधिकारी घटनास्‍थल पहुंच गए हैं. एसएसबी की टीम सबसे पहले घटनास्‍थल पर पहुंची है.

मंडी में गई 46 लोगों की जान:

उत्तराखंड के अलावा हिमाचल प्रदेश के मंडी में भी भूस्खलन की चपेट में आने से 46 लोगों की जान चली गई. हादसा इतना भयानक है कि अभी और लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है.

पूर्वोत्तर राज्यों में बाढ़ का कहर जारी

असम और त्रिपुरा में लाखों लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. बाढ़ की वजह से यहां अब तक 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं त्रिपुरा के तीन जिलों में अचानक बाढ़ आने से कम से कम 4,500 परिवार बेघर हो गए हैं.असम में तेज बारिश कहर बरपा रही है. असम के 21 जिलों के साढ़े 22 लाख लोग बाढ़ से जूझ रहे हैं. आर्मी ने असम में युद्ध स्तर पर बचाव कार्य शुरू किया है.

 

Be the first to comment on "उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में बादल फटने से 4 लोगों की मौत, सेना के 7 जवान लापता"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*