BREAKING NEWS
post viewed 156 times

एनीमिया और डायबिटीज में बेहद फायदेमंद होते हैं अंकुरित चने

grams-620x400

शरीर की फिटनेस बनाए रखने के लिए व्यायाम की जितनी जरूरत होती है. डाइट भी उतना ही महत्वपूर्ण होता है। ऐसे खाद्य जिनसे ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पोषक तत्व मिलते हों, उनके विषय में जानना तथा उनका नियमित सेवन करना निरोगी काया पाने के लिए बेहद जरूरी है। कुछ इसी तरह का नजरिया रखने वाले लोग अपने डाइट में भीगे हुए अंकुरित चने को जगह देते हैं। चना वैसे भी स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होता है लेकिन अगर उसे रात भर भिगोकर रख दें और सुबह उसमें अंकुरण हो जाए तो इसका सेवन और भी ज्यादा लाभदायक हो जाता है।

1. चने के अंकुरित हो जाने के बाद उसकी पौष्टिकता और बढ़ जाती है। इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन्स की मात्रा में थोड़ा और इजाफा हो जाता है। अंकुरित चना सेहत के लिए अद्भुत रूप से फायदेमंद है। आइए, जानते हैं कि अंकुरित चने का सेवन हमारी सेहत पर किस प्रकार प्रभाव डालता है

2. शरीर में आयरन की कमी को पूरा करने के लिए अंकुरित चने का इस्तेमाल किया जा सकता है। आयरन इसमें पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। एनीमिया के उपचार में अंकुरित चने काफी फायदेमंद होते हैं।

3. अंकुरित चने को सुबह-सुबह खाली पेट खाना ज्यादा फायदेमंद होता है। यह शरीर में ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित रखता है। साथ ही साथ रक्त में शुगर की मात्रा को भी कंट्रोल रखता है। इसलिए डायबिटीज के मरीज को अंकुरित चने का सेवन जरूर करना चाहिए।

4. पूरे दिन एनर्जेटिक रहना एक बड़ी चुनौती है। इसके लिए लोग दिन में कई बार अलग-अलग डाइट्स को फॉलो करते हैं, ताकि दिन भर ऊर्जावान बने रह सकें। सुबह खाली पेट अंकुरित चने का सेवन दिन भर आपको एनर्जेटिक बनाए रखता है।

5. अंकुरित चने में पर्याप्त मात्रा में फाइबर पाया जाता है। यह पाचन तंत्र को बेहतर रूप से क्रियाशील रहने में काफी मदद करता है, जिसकी वजह से कई तरह की पेट संबंधी बीमारियों से दूरी बनी रहती है। इसे नियमित रूप से खाने वाले लोगों के शरीर में विषाक्त तत्वों का संचयन नहीं होता।

Be the first to comment on "एनीमिया और डायबिटीज में बेहद फायदेमंद होते हैं अंकुरित चने"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*