BREAKING NEWS
post viewed 196 times

मोहाली में वरिष्ठ पत्रकार व 92 साल की मां की निर्मम हत्या, गला रेता

23_09_2017-murdermohalijournalist650b
मोहाली में वरिष्ठ पत्रकार केजे सिंह और उनकी 92 साल की माता की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वारदात की जांच एसआइटी के निर्देश दिए हैं।

चंडीगढ़। मोहाली के पॉश इलाके में एक वरिष्ठ पत्रकार केजे सिंह और उनकी 92 साल की माता की हत्या कर दी गई। दोनों के शव उनके घर से मिले हैं। वारदात से इलाके में दहशत है। मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने वारदात की निंदा की है और मामले की जांच एसआइटी से कराने की घोषणा की है। पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल ने दाेनों की हत्‍या पर शोक जताया है। प्रारंभिक जांच में हत्‍या का कारण लूटपाट बताया जा रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 मोहली के फेज 3, बी-2 के मकान नंबर 1796 में वरिष्ठ पत्रकार केजे सिंह और उनकी 92 वर्षीय माता गुरचरण कौर का शव मिला। केजे सिंह की हत्या गला रेतकर की गई है और उनकी मां की जान गला घोंटकर ली गई है। उनके घर से कुछ जरूरी कागजात और अन्य सामान भी गायब है। घर के बाहर खड़ी कार भी गायब है।

घटनास्थल पर मौजूद पुलिस और स्थानीय लोग।

केजे सिंह कई समाचार पत्रों में वरिष्‍ठ पदों पर रह चुके हैं। वह इंडियन एक्सप्रेस में न्यूज एडिटर पद पर रह चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया और द ट्र‍िब्यून में भी काम किया था। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पत्रकार की हत्या पर शोक व्यक्त किया है। सीएम ने हत्या की जांच के लिए एसआइटी गठित करने के निर्देश दिए।

मामले का खुलासा दोपहर में उस वक्त हुआ जब केजे सिंह के भांजा अजय उनके आवास पर पहुंचा। उन्होंने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस फिलहाल मामले की जांच में जुटी है। हालांकि प्रारंभिक जांच में मामला लूट का नजर आ रहा है। पत्रकार और उनकी मां की हत्या के चलते इलाके के लोग दहशत में है। एसएसपी कुलदीप सिंह ने भी घटनास्थल का मुआयना किया है।

पत्रकार केजे सिंह का घर, जहां हत्या की गई।

पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने पत्रकार केजे सिंह की हत्या पर दुख जताया है। उन्होंने पुलिस से तुंरत अपराधियों को पकड़ने की अपील की है।

हत्या करने वाले कुछ सामान तो साथ ले गए लेकिन काफी कीमती सामान को घर पर ही छोड़ गए। मामले में पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। शनिवार देर शाम तक वारदात की जांच के लिए पुलिस की कई टीमें गठित कर दी गईं। वारदात को अंजाम देकर लुटेरे घर से एक एलसीडी और बीस साल पुरानी फोर्ड आइकन कार ले गए हैं। कार घर के बाहर गैराज में खड़ी थी।

दाेपहर करीब दो बजे केजे सिंह का भांजा उन्हें खाना देने के लिए आया। उस समय घर का का दरवाजा खुला था। अंदर जाकर देखा तो गुरचरण कौर का शव पहले कमरे में बेड पर पड़ा था जबकि कुछ दूरी पर केजे सिंह का खून से लथपथ शव पड़ा था। केजे सिंह का कत्ल तेजधार हथियार से किया गया आैर उनकी मां गुरचरण कौर की गला घोंटकर हत्या की गई।

केजे सिंह पर चाकू से किए तीन वार

केजे सिंह के गले, पेट और हाथ पर तेजधार हथियार से वार किए गए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि लगता है कि केजे सिंह ने लुटेरों का मुकाबला किया होगा। केजे सिंह अपने मेन गेट को ताला लगाकर रखते थे। शाम छह बजे मेन गेट को ताला लग जाता था। सूत्रों का कहना है कि इस बात से इन्कार नहीं किया जा सकता कि कातिल केजे सिंह के जानकार होंगे।

केजे सिंह की एक चप्पल घर के पहले दरवाजे के पास और दूसरी चप्पल वहां पड़ी थी, जहां उनका शव था। इससे साफ है कि केजे सिंह ने किसी जानकार के होने के बाद दरवाजा खोला होगा। केजे सिंह के घर के मेन गेट से करीब पंद्रह मीटर की दूरी पर अंदर जाने का दरवाजा है। शाम छह बजे के बाद वह घर के मेन गेट को ताला लगा लेते थे।

चंडीगढ़ और मोहाली में रहते हैं रिश्तेदार

केजे सिंह के रिश्तेदार चंडीगढ़ व मोहाली में रहते हैं। बड़ा भाई चंडीगढ़ और बहन मोहाली में रहती है। दोनों मां-बेटे को खाना देने की सबने बारी बांधी हुई थी। शनिवार को बहन का बेटा खाना देने के लिए पहुंचा था। कत्ल के बाद घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है।

जांच भटकाने के लिए ले गए टीवी व कार

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, जांच भटकाने के लिए हत्‍यारे टीवी और कार घर से लेकर गए हैं। घर में सारा कीमती सामान वैसे ही पड़ा है। यहां तक कि केजे सिंह के गले में सोने की चेन और मां गुरचरण कौर के गोल्ड को भी हाथ नहीं लगाया गया है। घर में केजे सिंह ने स्टूडियो बना रखा था। उनका लैपटॉप व महंगा कैमरा भी लुटेरे नहीं लेकर गए।

घर में नहीं लगे थे कैमरे

केजे सिंह के घर में कैमरे नहीं थे। जबकि पड़ोस में लगा कैमरा बंद था। पुलिस जब सीसीटीवी फुटेज लेने गई तो पड़ोस के घरवालों के कैमरे बंद होने का पता चला।

काम करने वाली ने कहा-नहीं खोला दरवाजा

घर में काम करने आने वाली रेखा ने बताया कि शनिवार सुबह वह आई थी। घर के बाहर मेन गेट पर लगी डोर बेल बजाई। लेकिन कोई बाहर नहीं आया। करीब पंद्रह मिनट खड़ी होकर वह चली गई। रेखा ने पुलिस को बताया कि वह एक निजी स्कूल में रहती है और उसके पांच बच्चे हैं।

टोल प्लाजा से मांगी जानकारी

जिस फोर्ड कार को लुटेरे लेकर गए हैं, उसकी जानकारी पुलिस विभाग की ओर से हर टोल प्लाजा से मांगी गई है। इसके साथ-साथ क्षेत्र में चल रहे मोबाइल टावरों का डंप डाटा भी पुलिस की ओर से लिया गया है।

हत्या व लूट का मामला दर्ज

एसएसपी कुलदीप सिंह चहल ने बताया कि फिलहाल हत्या व लूट का मामला दर्ज कर लिया गया है। केजे सिंह व उनकी मां का शव फेज-6 के सिविल अस्पताल में रखवाया गया है। पोस्मार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा जाएगा।

SHAREShare on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0

Be the first to comment on "मोहाली में वरिष्ठ पत्रकार व 92 साल की मां की निर्मम हत्या, गला रेता"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*