BREAKING NEWS
post viewed 13 times

Hill Stations पर घूमने के शौकीन हैं तो घूमें मुंसियारी, पहाड़ों के साथ झरनों का मजा

06_12_2017-munsi
मुंसियारी एक प्राचीन बाजार जहां पर अधिसंख्यक भोटिया जाती के लोग हैं.यहां नंदा देवी मंदिर, ट्राइबल हेरिटेज म्यूजियम, कालामुनि टॉप, थामारी कुंड में घूमा जा सकता है.

सर्दियों का मौसम आते ही घूमने-फिरने के शौकीन लोग हिल स्टेशन पर जाने की प्लानिंग करने लगते हैं. ऐसे में छुट्टियों में पॉपुलर हिल स्टेशन पर भीड़ देखने को मिलते है. ज्यादातर होटल बुक होते हैं. आपको ऐसी परेशानी का सामना न करना पड़े इसलिए हम आपको ऐसे हिल स्टेशन के बारे में बताने जा रहे हैं, जो मसूरी, मनाली, शिमला की तरह पॉपुलर तो नहीं लेकिन उनकी तरह बेहद खूबसूरत है. इस हिल स्टेशन का नाम है मुंसियारी

सुंदर पहाड़ों का नजारा

उत्तराखंड में सबसे तेजी से बढ़ते पर्यटक स्थलों में से एक मुंसियारी में पिथौरागढ़ और अल्मोड़ा दोनों जगहों से पहुंचा जा सकता है. मुंसियारी के पास ही खलिया टॉप है जो पर्यटकों में बेहद लोकप्रिय है. खलिया टॉप से हिमालय के चोटियां आमने सामने दिखती हैं. मिलम ग्लेशियर और रालम ग्लेसियर पहुंचने के लिए भी मुंसियारी ही आना पड़ता है.

मुंसियारी एक प्राचीन बाजार जहां पर अधिसंख्यक भोटिया जाती के लोग हैं.यहां नंदा देवी मंदिर, ट्राइबल हेरिटेज म्यूजियम, कालामुनि टॉप, थामारी कुंड में घूमा जा सकता है. साथ ही आपको झरनों और झीलों का शौक है, तो आप बिर्थी वाटरफॉल को देख सकते हैं.

कैसे पहुंचे : काठगोदाम हल्द्वाोनी रेलवे स्टे्शन से मुनस्या री की दूरी लगभग 295 किलोमीटर है और नैनीताल से 265 किलोमीटर है. काठगोदाम से मुनस्याीरी की यात्रा बस अथवा टैक्सीि के माध्यटम से की जा सकती है.

घूमने के लिए बेस्ट टाइम : आप नवम्बर से फरवरी के बीच यहां घूम सकते हैं.

क्या है खास : खलिया टॉप, नंदा देवी मंदिर, डानाधार और खूबसूरत झरनें.

Be the first to comment on "Hill Stations पर घूमने के शौकीन हैं तो घूमें मुंसियारी, पहाड़ों के साथ झरनों का मजा"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*