BREAKING NEWS
post viewed 76 times

दिल्ली के ‘राम रहीम’ का पर्दाफाश, आश्रम में था अय्याशी का अड्डा

baba_1513845457_618x347

हमारा देश भी कितना अजीब है. यहां एक पाप से मुक्ति मिलती नहीं कि दूसरा पाप सिर उठाकर खड़ा हो जाता है. हम भी कितने अजीब हैं, जो हम एक ही गलती बार बार दोहराते हैं. हमें कुछ कहने की ज़रूरत नहीं. पीछे लिखे इस नाम से ही आप समझ गए होंगे कि बात किस पर हो रही है. ढ़ोंगी बाबाओं की कतार में एक और नाम जुड़ गया है. आरोपों के मुताबिक ये नया बाबा पिछले वक़्त में गुज़रे तमाम बाबाओं से भी चार हाथ आगे हैं. बाकी बाबाओं की तरह इन्होंने भी खुद भगवान तो घोषित कर ही रखा है. मगर ये भगवान होने के साथ ये दलील देता था कि उसके आश्रम की सभी लड़कियां उसकी 16 हज़ार रानियां हैं. जानिए कौन है ये 16 हज़ार रानियों वाला भगवान.

दिल्ली का ‘राम रहीम’

दिल्ली में एक और ‘गुरमीत राम रहीम’ का खुलासा. खुलने लगी है एक और बाबा की पोल. होने लगा एक और ढोंगी का पर्दाफाश. राजधानी दिल्ली में भक्ति के नाम पर पाखंड करने वाले एक ढोंगी बाबा का पर्दाफाश हुआ है. ऐसा आरोप लगाया जा रहा है कि दिल्ली के रोहिणी इलाके में इस अध्यात्मिक विश्वविद्यालय में भोली-भाली लड़कियों और मासूम बच्चियों का आस्था के नाम पर सालों से शोषण हो रहा था. वो भी सरकार की नाक के नीचे. मगर खुलासा अब जाकर हुआ है.

आश्रम की आड़ में अय्याशी

दिल्ली के इस ‘राम रहीम’ का नाम है वीरेंद्र देव दीक्षित. जो खुद को अध्यात्म गुरु कहता है. इस बाबा की कहानी बड़ी अजीब है. तमाम दूसरे बाबाओं की तरह ये खुद को भगवान का अवतार तो बताता ही है. मगर इसकी तमन्ना सोलह हजार रानियां बनाने की थीं. दिल्ली जैसे बड़े शहर में आस्था के नाम पर चल रहे अय्याशी के इस खेल की पूरी कहानी जानेंगे तो हैरानी होगी. कौन है ये बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित. ये जानने के लिए सबसे पहले इसके आश्रम के बारे में जानिए जिसका नाम है अध्यात्मिक विश्वविद्यालय. बाबा की अय्याशी की कहानी यहीं से शुरू हुई और लगता है यहीं खत्म होगी.

आध्यात्मिक विश्वविद्यालय का सच

खुद को भगवान बताने वाले इस बाबा का सच क्या है. उसके इस आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के नाम से चर्चित इस इमारत के अंदर होता क्या है. ये तमाम सवाल ज़ेहन में उठते हैं जब आप रोहिणी के विजय विहार इलाके में ‘आध्यात्मिक विश्वविद्यालय’ के बाहर पंहुचते हैं. यही हकीकत जानने के लिए यहां दिल्ली पुलिस पुलिस, महिला आयोग और हाईकोर्ट की टीम पहुंचीं थी. इसके बाद वहां शुरू हुआ हंगामा. और अब ये सैकड़ों लोगों की भीड़ इस इमारत के अंदर का सच जानने के लिए बेताब है.

‘भट्टी’ में झोकीं जाती हैं लड़कियां

कॉलोनी के बीच चारों तरफ से बंद इस इमारत पर बाहर आध्यात्मिक विश्वविद्यालय लिखा हुआ है. लेकिन इमारत के अंदर क्या-क्या होता है, इस पर जितने मुंह-उतनी ही बातें. गुफा के अंदर ‘भट्टी’ में झोकीं जाती हैं लड़कियां!. प्रसाद के नाम पर आश्रम में बांटी जाती है ‘अश्लीलता’. आश्रम में लड़कियों को दिया जाता है ड्रग्स. देश की राजधानी दिल्ली के रोहिणी में बने इस आध्यत्मिक विश्वविद्यालय का सच सामने आया तो पैरों तले ज़मीन खिसक गई. ऊंची-ऊंची दीवारों के बीच इस यूनिवर्सिटी में सेक्स का खेल चल रहा था. मासूम लड़कियों के साथ खिलवाड़ हो रहा था. किले की तरह बने इस विश्वविद्यालय को बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित चला रहा था. ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि इस यूनिवर्सिटी से छुड़ाई गईं लड़कियां कह रही है.

बच्चियां भी आश्रम में कैद

इस इमारत को चारों ओर से ग्रिल से जकड़ा गया है. कुछ इस तरह जकड़ दिया गया है कि बिना इजाज़त कोई परिंदा भी यहां पर न मार सके. इस विश्वविद्यालय के बाहर लोगों की भीड़ जुटी हुई है. भीड़ में परेशान और रोते बिलखते कई लोग अपनी घर की बेटियों को लेने पहुचे हैं. उनका आरोप है कि उनकी बच्चियों को आश्रम में कैद कर लिया गया है.

हाई कोर्ट के आदेश पर छापेमारी

नाबालिक लड़कियों और महिलाओं को बंधक बनाकर रखने का आरोप झेल रहे है इस आध्यात्मिक विश्वविद्यालय पर दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर रेड मारी गई है. कई लड़कियों को सुरक्षित भी निकाला गया है. हाईकोर्ट ने पुलिस को नॉर्थ दिल्ली के इस आध्यात्मिक संस्थान की तुरंत जांच करने का आदेश दिया था. संस्थान पर एक एनजीओ ने लड़कियों और महिलाओं को उसी ढंग से बंधक बनाकर रखने का आरोप लगाया था, जैसे हालात हरियाणा में गुरमीत राम रहीम के आश्रम में देखने को मिले थे.

सीबीआई करेगी अय्याशी आश्रम की जांच

दिल्ली हाईकोर्ट ने चिंता जताते हुए कहा कि ये बहुत ही खतरनाक बात है कि महिलाओं और लड़कियों को आस्था के नाम पर बंधक बनाकर रखा जा रहा है. फिलहाल इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है. साथ ही सीबीआई जांच के आदेश भी दे दिए गए हैं. हालांकि अहम सवाल ये है कि आखिर कैसे इतने लंबे समय से राजधानी दिल्ली में इस तरह के आध्यात्म के नाम पर धोखा किया जा रहा था. मगर ये तो सिर्फ शुरूआत बाबा राम रहीम के सिरसा डेरे की तरह अभी इस आध्यात्मिक विश्वविद्यालय की दीवारों के पीछे की कहानियों का छन-छन कर बाहर आना अभी बाकी है.

Be the first to comment on "दिल्ली के ‘राम रहीम’ का पर्दाफाश, आश्रम में था अय्याशी का अड्डा"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*