BREAKING NEWS
post viewed 69 times

वर्ष 2030 तक 7 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा भारत: देबरॉय

21_12_2017-bibek-debroy
देबरॉय ने यह भी कहा कि लोग आज सरकारी नौकरी नहीं तलाश रहे, बल्कि अब ज्यादा से ज्यादा लोग दूसरे को रोजगार उपलब्ध करा रहे हैं

नई दिल्ली (पीटीआई)। साल 2030 तक भारत 6.5 से 7 ट्रिलियन डॉलर (6500 से 7,000 अरब डॉलर) वाली अर्थव्यवस्था बन सकता है। वहीं 2035-40 तक इसके 10 ट्रिलियन डॉलर (10,000 अरब डॉलर) वाली अर्थव्यवस्था बनने की संभावनाएं हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि प्रति व्यक्ति आय साल 2030 तक केवल 4,000 अरब डॉलर ही रहेगी, जो कई अन्य देशों के मुकाबले कम होगी।

क्या बोले देबोरॉय: स्कॉच शिखर सम्मेलन में बोलते हुए देबोरॉय ने कहा, “साल 2030 तक देश की राष्ट्रीय आय 6,500 से 7,000 अरब डॉलर होगी। अगर विनिमय दर वही रहती है जो आज है तो देश की अर्थव्यवस्था 2035-40 तक 10,000 अरब डॉलर की हो जाएगी।” उन्होंने आगे कहा कि अर्थव्यवस्था के आकार के साथ भारत उल्लेखनीय रूप से एक अलग तरह का देश होगा और वैश्विक मंच पर इसकी भूमिका अहम होगी। देबरॉय ने यह भी कहा कि लोग आज सरकारी नौकरी नहीं तलाश रहे, बल्कि अब ज्यादा से ज्यादा लोग दूसरे को रोजगार उपलब्ध करा रहे हैं।

वहीं दूसरी तरफ जमीन से जुड़े मुद्दे पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि यह एक जटिल मुद्दा है और भारत में इसका अकुशल तरीके से इस्तेमाल किया गया है। देबरॉय ने कहा कि देश के पास जमीन के मालिकाना हक के संदर्भ में कोई स्पष्ट प्रणाली नहीं है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी काफी सारे लोग आने वाले कुछ सालों में देश की अर्थव्यवस्था में तेज विस्तार का अनुमान जता चुके हैं इनमें देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी भी शामिल हैं।

Be the first to comment on "वर्ष 2030 तक 7 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा भारत: देबरॉय"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*