BREAKING NEWS
post viewed 207 times

बाल ठाकरे के अंदाज़ में आएंगे नवाज़, तो पहचान नहीं पाएंगे आप

22_12_2017-nawaz_thackeray
नवाज़ ये अवसर मिलने से गदगद हैं। ट्विटर पर उन्होंने बाल ठाकरे को रियल किंग कहते हुए लिखा है कि पर्दे पर उनका किरदार निभाने का मौक़ा मिलना उनके लिए आदर और गर्व की बात है।

मुंबई। महाराष्ट्र की सियासी किताब बाला साहेब ठाकरे नाम के चैप्टर के बिना पूरी नहीं हो सकती और मुंबई की कोई भी कहानी बाल ठाकरे के ज़िक्र के बिना अधूरी है। बाल ठाकरे के सियासत करने के तौर-तरीक़ों को लेकर बहस हो सकती है, मगर एक शख़्सियत के तौर पर उनकी उपस्थिति को नज़रअंदाज़ करना नामुमकिन है। बाला साहेब के निडर, बेबाक़ और प्रभावशाली व्यक्तित्व को सिल्वर स्क्रीन पर  उतारने की तैयारी की जा रही है और इसे अंजाम देने का बीड़ा उठाया है शिव सेना नेता और सांसद संजय राउत ने, जो बाला साहेब ठाकरे की बायोपिक फ़िल्म ‘ठाकरे’ का निर्माण कर रहे हैं।

23 जनवरी 2019 को रिलीज़ के लिए निर्धारित फ़िल्म में नवाज़उद्दीन सिद्दीक़ी बाला साहेब का किरदार निभा रहे हैं। हिंदुत्व की राजनीति के पुरोधा रहे बाल ठाकरे के किरदार में नवाज़ुद्दीन का चयन चौंकाता है, मगर संजय राउत इसे घोर व्यवसायिक फ़ैसला मानते हैं, क्योंकि इस फ़िल्म को व्यवसायिक नज़रिए से बनाया जा रहा है, राजनैतिक नहीं। उनके मुताबिक़, नवाज़ जैसा बेहतरीन कलाकार ही बाला साहेब के किरदार के साथ न्याय कर सकता है। उधर, नवाज़ ये अवसर मिलने से गदगद हैं। ट्विटर पर उन्होंने अपनी ख़ुशी यूं ज़ाहिर की है

एक अन्य ट्वीट में बाल ठाकरे को रियल किंग कहते हुए नवाज़ लिखते हैं कि पर्दे पर उनका किरदार निभाने का मौक़ा मिलना उनके लिए आदर और गर्व की बात है। इसके साथ नवाज़ ने शिव सेना चीफ़ उद्धव ठाकरे, प्रोड्यूसर संजय राउत, अमिताभ बच्चन और डायरेक्टर अभिजीत पणसे का आभार जताया है। बता दें कि अमिताभ बच्चन हाल ही में फ़िल्म के फ़र्स्ट लुक (टीज़र) लांच इवेंट में ख़ास मेहमान बने थे। वैसे बाल ठाकरे से प्रेरित सुभाष नागरे का किरदार बच्चन ‘सरकार’ सीरीज़ में निभाते रहे हैं।

इस फ़िल्म के आने में वक़्त है, मगर इससे पहले कई ऐसी कहानियां हिंदी सिनेमा के पर्दे पर आने वाली हैं, जिनके नायक वास्तविक जीवन से आये हैं। उनकी कहानियां आपने सुनी होंगी और कुछ इतना प्रभावित करती हैं कि ज़हन में ख्याल आता होगा कि इन पर फ़िल्म बननी चाहिए। चलिए, आपको बताते हैं कि आने वाले समय में कौन सी रियल लाइफ़ पर्सनेलिटीज़ सिल्वर स्क्रीन को जगमगाने आ रही हैं।

अक्षय कुमार की पैड मैन:

रियल लाइफ़ नायक पर आधारित ‘पैड मैन’  26 जनवरी को आएगी, जिसमें अक्षय कुमार अरुणाचलम मुरुगानाथम के किरदार में नज़र आ रहे हैं। ये फ़िल्म अरुणाचलम की बायोपिक है। अरुणाचलम ने कम क़ीमत के सेनेटरी पैड्स बनाने की विधि की खोज करके आधी आबादी के लिए को बहुत बड़ी सहूलियत दी है। अरुणाचलम के बारे में लोगों को तभी पता चला, जब ट्विंकल खन्ना ने इस पर फ़िल्म बनाने का सोचा और अक्षय कुमार लीड रोल में फ़ाइनल हुए। आर बाल्की निर्देशित इस फ़िल्म में राधिका आप्टे मुरुगानाथम की पत्नी शांति के किरदार में हैं, जिनकी माहवारी की दिक्कत को समझने के बाद उन्होंने इससे निपटने का उपाय खोजने का बीड़ा उठाया और इसी प्रक्रिया में वो हीरो बन गये।

रितिक रोशन की सुपर 30:

पटना में चलने वाली सुपर 30 कोचिंग का नाम सभी ने सुना होगा। ग़रीब तबके से आने वाले मेधावी विद्यार्थियों को इस कोचिंग में पढ़ाकर उन्हें इस काबिल बनाया जाता है कि आईआईटी जैसी मुश्किल प्रवेश परीक्षा पास कर सकें। आप सोचेंगे कि इसमें क्या हीरोइज़्म है। कितनी ही कोचिंग ऐसी हैं, जो मेडिकल और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करवाती हैं। सुपर 30 का हीरोइज़्म ये है कि इसमें पढ़ने वाले विद्यार्थियों को कोई फ़ीस नहीं देनी होती। बस एक ही शर्त है कि वो मेधावी हों। इस कोचिंग को आनंद कुमार संचालित करते हैं, जो मूल रूप से मैथमैटिशिन हैं और ख़ुद ग़रीबी की वजह से उच्च शिक्षा का मौक़ा पाने से वंचित रह गये थे। आनंद ने अपनी कसक को ही जीवन का लक्ष्य बना लिया। आनंद की सुपर 30 कोचिंग का परिणाम शत-प्रतिशत रहता है। अब उन पर बन रही फ़िल्म को विकास बहल डायरेक्ट कर रहे हैं। फ़िल्म में रितिक रोशन आनंद कुमार के किरदार में नज़र आएंगे।

रणबीर कपूर की संजय दत्त बायोपिक:

इन दोनों आम कहानियों के अलावा कुछ बेहद ख़ास कहानियां भी बड़े पर्दे पर दिखने वाली हैं। बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त की बायोपिक फ़िल्म उनकी ज़िंदगी के सभी उतार-चढ़ाव को सिल्वर स्क्रीन पर दिखाएगी। इस फ़िल्म को राजकुमार हिरानी डायरेक्ट कर रहे हैं, जबकि रणबीर कपूर लीड रोल में हैं। संजय के किरदार के लिए रणबीर कपूर ने ख़ुद को फिज़िकली काफ़ी बदला है। इस फ़िल्म में दीया मिर्ज़ा मान्यता दत्त के रोल में हैं, जबकि परेश रावल सुनील दत्त का किरदार प्ले करेंगे। वहीं मनीषा कोईराला नर्गिस के रोल में दिखेंगी। फ़िल्मों में संजय दत्त कई किरदारों के ज़रिए अलग-अलग कहानियां कहते रहे हैं, मगर अब उनकी अपनी कहानी ही सिल्वर स्क्रीन पर दिखेगी।

अनुपम खेर की द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर:

देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह अपनी सियासी चुप्पी को लेकर ख़ूब चर्चा में रहे हैं। अब उनके प्रधानमंत्री के रूप में कार्यकाल पर एक फ़िल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ आ रही है, जिसे हंसल मेहता ने लिखा है, जबकि विजय गुट्टे ने डायरेक्ट किया है। इस फ़िल्म में अनुपम खेर पूर्व पीएम के किरदार में दिखेंगे। फ़िल्म अगले साल 21 दिसंबर को रिलीज़ के लिए निर्धारित है।

SHAREShare on Facebook1.4kShare on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0

Be the first to comment on "बाल ठाकरे के अंदाज़ में आएंगे नवाज़, तो पहचान नहीं पाएंगे आप"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*