डीएमके ने 5 अप्रैल तो एआईएडीएमके ने 3 अप्रैल को बोर्ड के गठन की मांग को लेकर राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया था. एआईएडीएमके नेता एम थंबीदुरई ने कहा था कि अगर कांग्रेस समर्थन करे तो उनकी पार्टी केंद्र सरकार के खिलाफ संसद में अविश्वास प्रस्ताव लाने पर भी विचार कर सकती है.