झारखंड में गिरिडीह जिले के मुरकुंडो गांव में दिनदहाड़े धारदार हथियारों से हमला कर झामुमो के जीतकुंडी पंचायत अध्यक्ष बालेश्वर मंडल (50) की हत्या कर दी गई।

जानकारी के मुताबिक, जीतकुंडी निवासी बालेश्वर ठेकेदारी करता था। घटना का कारण आपसी विवाद बताया जा रहा है। इस घटना से इलाके में सनसनी है। भड़के लोगों ने साढ़े चार घंटे तक शव नहीं उठने दिया। पुलिस के समझाने के बाद शव उठाया जा सका। बालेश्वर किसी काम से मुरकुंडो गया था। तभी दो बाइकों पर सवार कुछ लोग आए और उस पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। उसके सिर, छाती एवं पीठ पर प्रहार किया। भागने के क्रम में अपराधियों ने तीन-चार चक्र हवा में भी फायरिंग भी की। सूचना पाकर एसडीपीओ अरविंद कुमार बिन्हा, अंचल इंस्पेक्टर वीरेंद्र राम, थाना प्रभारी दिनेश सिंह पहुंचे।

पुलिस ने छानबीन के दौरान घटनास्थल से दो खोखा एवं एक जिंदा कारतूस बरामद किया है। सूचना पाकर विधायक जगरनाथ महतो पहुंचे। उन्होंने बालेश्वर के परिजनों को सांत्वना दी। पुलिस से अपराधियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है। बालेश्वर के पुत्र दिलीप मंडल ने बताया कि तीन अप्रैल को नदी के किनारे किसी बात पर बरवाडीह निवासी हाशिम अंसारी, उसके पुत्र मुमताज अंसारी, मुरकुंडो निवासी नरेश मंडल, गणेश मंडल, उमेश मंडल जीतकुंडी निवासी बुल अंसारी एवं आलम अंसारी के साथ विवाद हुआ था। तब उन लोगों ने पिता बालेश्वर को जान से मारने की धमकी दी थी। दिलीप का कहना है कि इन लोगों ने ही हत्या की है।

हत्या धारदार हथियार की गई है। शरीर पर गोली का निशान नहीं मिला है। कई लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। अपराधियों को जल्द पकड़ा जाएगा।