BREAKING NEWS
post viewed 73 times

पठानकोट एयरबेस पर आतंकी हमले की साजिश!

226045-pathan-court

संदिग्धों की जानकारी मिलते ही सेना अलर्ट हो गई है. संदिग्धों की तलाश में सेना की ओर से सर्च ऑपरेशन चलाया गया है.

 देर रात सेना की वर्दी में गाड़ी से मांगी थी लिफ्ट
संदिग्धों के पास हथियार देखकर भाग गया गाड़ी चालक
सेना ने बरामद की हाइजैक की हुई कार
नई दिल्ली : पठानकोट एयरबेस के पास बुधवार देर रात हथियारबंद संदिग्धों को देखे जाने की खबर हैं. जानकारी के मुताबिक बुधवार(19 अप्रैल) करीब रात 12 बजे सेना की वर्दी में तीन लोगों ने हिमाचल की तरफ से आने वाली एक गाड़ी से लिफ्ट मांगी और चालक ने उन्हें लिफ्ट दे दी. रास्ते के बीच में युवक को शक हुआ तो उसने सेना की वर्दी पहने हुए तीनों संदिग्धों से पूछताछ की. गाड़ी चालक कुछ कर पाता इससे पहले ही संदिग्धों ने उसे मारपीट कर गाड़ी से उतार दिया और फरार हो गए.

कार के मालिकों ने इस बात की जानकारी पुलिस को दी और बताया की संदिग्ध सेना की वर्दी में थे. सूचना मिलने के बाद सेना ने पूरे इलाके को हाई अलर्ट पर रखा हुआ है. संदिग्धों की तलाश में सेना की ओर से तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. भारतीय सेना ने संदिग्धों द्वारा अगवा की गई कार को बरामद कर लिया है.

घबराने की जरूरत नहीं- पंजाब के सीएम
वहीं, इस मामले में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का कहना है कि घबराने की कोई बात नहीं है.

पंजाब और हिमाचल में सुरक्षा अलर्ट
पठानकोट एयरबेस के पास संदिग्धों की खबर आते ही पंजाब और हिमाचल प्रदेश चौकन्ना हो गई है. पंजाब के कई इलाकों में पुलिस द्वारा गाड़ियों की आवाजाही पर निगरानी रखी जा रही है.

2017 में हुआ था एयरबेस पर हमला
2017 में सीमापार से आतंकवादी एक-दो जनवरी की दरम्यिानी रात को एयरबेस में घुस गये थे और उन्होंने हमला कर दिया था. इससे पहले 27 जुलाई 2015 को गुरदासपुर के दीनानगर में हमला किया गया था. पठानकोट हमले में सात सुरक्षाकर्मियों की जान चली गई थी वहीं चार आतंकवादी मारे गए थे. दीनानगर हमले में सेना की वर्दी पहने तीन भारी हथियारबंद आतंकियों ने एक थाने पर हमला कर दिया था जिसमें एक पुलिस अधीक्षक समेत सात पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे. इस हमले के बाद भारतीय सेना ने एक सर्च ऑपरेशन चलाया था और आतंकवादियों को ढेर कर दिया था.

Be the first to comment on "पठानकोट एयरबेस पर आतंकी हमले की साजिश!"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*