रोहित गुप्ता /उन्नाव –हाईकोर्ट के सख्त तेवर के बाद सीबीआइ ने शुक्रवार से जिले में ही डेरा जमा लिया। सीबीआइ टीम ने रात में माखी गांव में कई जगह पर छापेमारी की। बताते हैं कि पीडि़ता की पिता की हत्या के समय घटनास्थल पर मौजूद रहे युवक को पकड़ा है। इस बीच जून 2017 में दर्ज मामले के आरोपियों की तलाश भी की गई। सीबीआइ की बढ़ी सक्रियता को लेकर विधायक के करीबियों में खलबली मच गई है।

सीबीआइ टीम साक्ष्य जुटाने और शेष लोगों की गिरफ्तारी के लिए उन्नाव में ही रुकी है। नवाबगंज के पक्षी विहार में रुकी टीम शुक्रवार रात माखी पहुंची। चर्चा है कि जिस युवक ने पीडि़ता के पिता की गांव आने की सुरागरसी की थी, सीबीआइ ने भोरपहर उसे घर से उठा लिया। युवक से पूछताछ कर टीम हत्या के मामले में कई अहम सुराग जुटा सकती है। इधर गांव के सूत्रों के मुताबिक इस बीच सीबीआइ ने 11 जून 2017 को पीडि़ता की मां की तरफ से दर्ज मामले में आरोपी शुभम उसके ड्राइवर आदि की तलाश में भी कई स्थानों पर दबिश दी गई। हालांकि कोई हाथ नहीं आया लेकिन सीबीआइ ने सभी के परिजन को उन्हें जल्द हाजिर कराने को कहा है।