BREAKING NEWS
post viewed 84 times

महानदी जल विवाद: छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह से भिड़े केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान

BJP

वर्ष 2000 में राज्य बनने के बाद छत्तीसगढ़ ने महानदी पर 6 बैराज बनाए हैं.

नई दिल्ली: किसी भी मुद्दे पर राजनीतिक दलों के अलग अलग विचार होना स्वाभाविक है और इस पर विवाद भी अक्सर होता रहता है लेकिन कैसा हो अगर किसी विषय पर एक ही पार्टी के लोगों में आपस में मतभेद हो जाए. ऐसा ही कुछ हुआ है महानदी को लेकर बीजेपी के नेताओं के बीच. पिछले हफ्ते केंद्रीय मंत्री और ओडिशा में बीजेपी के नेता धर्मेंद्र प्रधान ने महानदी के पानी को लेकर हो रहे विवाद पर खुलेआम अपनी ही पार्टी के नेता और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह की आलोचना की थी.

रमन सिंह ने 29 मई को कहा था, ”हम महानदी के पानी का इस्तेमाल कर रहे हैं और भविष्य में और ज्यादा इस्तेमाल करेंगे.” रमन सिंह के इसी बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए धमेंद्र प्रधान ने कहा, ”महानदी विवाद पर रमन सिंह का बयान निंदनीय है, ओडिसा की बीजेपी यूनिट का साफ मानना है कि ओडिसा के हितों से कोई समझौता नहीं हो सकता.”

आपस में क्यों भिड़े बीजेपी नेता
बीजेपी के दो बड़े नेताओं के बीच इस विवाद की जड़ है अगले साल होने वाला ओडिसा विधानसभा चुनाव जिसमें अभी ओडिसा की सत्ता में बैठी बीजेडी महानदी के पानी को ओडिसा को नहीं देने के मुद्दे को जोर शोर से उठा रही है. बीजेडी छत्तीसगढ़ सरकार पर पानी नहीं देने का आरोप लगा रही है और इसके लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहरा रही है. ऐसे में ओडिसा बीजेपी के लिए ये जरूरी हो जाता है कि वो किसी भी कीमत पर खुद को ओडिसा के हितों के लिए किसी से भी टकराव करने की स्थिती में दिखे फिर चाहे सामने बीजेपी का ही कोई नेता क्यों न हो.

क्या है विवाद?
वर्ष 2000 में राज्य बनने के बाद छत्तीसगढ़ ने महानदी पर 6 बैराज बनाए हैं, इससे पहले तक 1983 में लिए गए निर्णय के मुताबिक संयुक्त मध्य प्रदेश और ओडिसा एक ज्वॉइंट कंट्रोल बोर्ड बनाकर मामले को निपटाते थे. महानदी पर बैराज बनाने के खिलाफ ओडिसा सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में पानी के विवाद को सुलझाने के लिए एक ट्राइबयून्ल बनाने की मांग की थी. मार्च 2018 में केंद्र ने महानदी के पानी के विवाद को सुलझाने के लिए तीन सदस्यीय महानदी वॉटर डिस्पयूट ट्राइबयून्ल बनाने की घोषणा की थी.

Be the first to comment on "महानदी जल विवाद: छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह से भिड़े केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*