BREAKING NEWS
post viewed 1,225 times

राजीव गांधी की तरह PM मोदी को भी मारने की साजिश, मिले नक्सलियों की चिट्ठी से खुलासा

modi_1528446124_618x347 (1)

सुरेंद्र कुमार

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में कुछ दिनों पहले हुई पांच गिरफ्तारियों के बाद भी कई खुलासे हो रहे हैं. पहले खुलासा हुआ कि नक्सली देश में एक और राजीव गांधी हत्याकांड की साजिश रच रहे हैं. अब एक ऐसी चिट्ठी सामने आई है जिसमें खुलासा हुआ है कि ये साजिश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ही रची जा रही है.

18 अप्रैल को रोणा जैकब द्वारा कॉमरेड प्रकाश को लिखी गई चिट्ठी में कहा गया है कि हिंदू फासिस्म को हराना अब काफी जरूरी हो गया है. मोदी की अगुवाई में हिंदू फासिस्ट काफी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं, ऐसे में उन्हें रोकना जरूरी हो गया है.modi_1528446124_618x347 (1)

चिट्ठी में लिखा गया है कि मोदी की अगुवाई में बीजेपी बिहार और बंगाल को छोड़ करीब 15 से ज्यादा राज्यों में सत्ता में आ चुकी है. अगर इसी तरह ये रफ्तार आगे बढ़ती रही तो माओवादी पार्टी को खतरा हो सकता है. इसलिए वह सोच रहे हैं कि एक और राजीव गांधी हत्याकांड की तरह घटना की जाए.

कहा गया है कि अगर ऐसा होता है तो ये एक तरह से सुसाइड अटैक लगेगा, हमें लगता है कि हमारे पास ये चांस है. मोदी के रोड शो का टारगेट करना एक अच्छी प्लानिंग हो सकती है.

इस मामले पर सीपीआई(M) नेता सीताराम येचुरी का कहना है कि अगर इस प्रकार की कोई बात सामने आई है तो इसकी जांच होनी चाहिए.

CPI(M) General Secretary Sitaram Yechury reacts on Pune Police intercepts internal communication of Maoists planning a ‘Rajiv Gandhi type’ assassination of Prime Minister Modi.

 आपको बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 1991 में हत्या कर दी गई थी. तमिलनाडु में एक सुसाइड बॉम्बर के जरिए राजीव गांधी को मार दिया गया था.

5 लोगों की गिरफ्तारी के बाद पुणे पुलिस का कहना था कि उसे ऐसे सबूत मिले हैं, जिसमें नक्सलियों द्वारा ‘राजीव गांधी हत्याकांड’ की तर्ज पर एक और कांड किए जाने की साजिश रचे जाने का पता चला है.

SHAREShare on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0

Be the first to comment on "राजीव गांधी की तरह PM मोदी को भी मारने की साजिश, मिले नक्सलियों की चिट्ठी से खुलासा"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*