आज से फुटबॉल वर्ल्ड कप 2018 की शुरुआत हो रही है और इस साल रूस कर रहा है फीफा की मेजबानी। दुनियाभर के फुटबॉल फैन्स की नजर एक महीने के लिए रूस पर ही टिकी रहेगी।  ऐसे में अगर आप भी विदेश घूमने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो आप रूस जा सकते हैं। मैच के साथ रूस भी घूम सकते हैं। आइए, जानते हैं रूस के जिन शहरों में होने वाले है फीफा के मैच, वहां क्या है खास।

मॉस्को 

 

मॉस्को रूस की राजधानी है। आप इसे रूस का दिल भी कह सकते हैं। मॉस्को में देखने के लिए इतना कुछ है कि आप कंफ्यूज हो जाएंगे कि कहां से शुरू करें और क्या-क्या देखें। रूस के फेमस आइकन्स में से एक रेड स्क्वेयर, मॉस्को क्रेमलिन, सेंट बेसिल कैथेड्रल और लेनिन की समाधी जैसी चीजें मॉस्को में ही हैं। म्यूजियम्स के शौकीन हैं तो स्टेट हिस्टॉरिकल म्यूजियम, पुशकिन स्टेट म्यूजियम ऑफ फाइन आर्ट्स और बोल्शोई थिअटर जाना न भूलें

सेंट पीटर्सबर्ग 

सेंट पीटर्सबर्ग को रूस की शाही राजधानी कहा जा सकता है क्योंकि यह एक वैभवशाली शहर है जहां मौजूद हैं रूस के कई शाही महल और म्यूजियम्स। यह रूस का दूसरा सबसे बड़ा शहर है जिसका सांस्कृतिक और राजनीतिक महत्व बहुत अधिक है। टूरिज्म की दृष्टि से भी यह शहर काफी फेमस है और बड़ी संख्या में पर्यटक यहां हॉलिडे मनाने आते हैं।

काजन 

मॉस्को से भी पुराना शहर है काजन जिसकी स्थापना 1005 में हुई थी। 2018 का फुटबॉल वर्ल्ड कप होस्ट करने के साथ ही इस शहर में पहले भी कई स्पोर्ट्स इवेंट्स का आयोजन हो चुका है जिस वजह से इस शहर को स्पोर्ट्स कैपिटल ऑफ रशिया के नाम भी जाना जाता है।

यहां काजन क्रेमलिन, कुल शरीफ मस्जिद जैसी जगहें देखने लायक हैं।

सामारा

 

रूस का शहर सामारा 2 नदियों सामारा और वोल्गा के मिलाप वाली जगह पर बसा है। इस शहर में कई खूबसूरत कैथेड्रल्स और रूस की सबसे बड़ी मस्जिद है। रूस के पहले व्यक्ति यूरी गैगरीन को स्पेस में ले जाने वाले रॉकेट वोस्तॉक 1 का निर्माण सामारा शहर में ही हुआ था।

सोची 

भले ही आप रूस के शहरों के नाम से वाकिफ न हों लेकिन सोची का नाम आपने पहले भी सुना होगा क्योंकि फुटबॉल वर्ल्ड कप 2018 होस्ट करने से पहले रूस का कोस्टल शहर सोची 2014 के विंटर ओलिंपिक गेम्स की मेजबानी कर चुका है। यहां बाइजैन्टाइन के समय के खंडहर हैं, म्यूजियम्स हैं, जिस वजह से सोची आर्ट और हिस्ट्री में दिलचस्पी रखने वालों के लिए अच्छा शहर है।