नई दिल्ली/ भोपाल: मध्य प्रदेश में आगामी होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बीएसपी ने कांग्रेस से गठबंधन करने से इनकार कर दिया है. यदि आ रही रिपोर्ट्स को माना जाए तो बीएसपी राज्य की सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी में है. एमपी के बीएसपी प्रदेश अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद अहिरवार ने कहा, मुझसे मीडिया ने पूछा था कि कांग्रेस नेता कह रहे हैं कि बीएसपी के साथ आगामी विधानसभा चुनाव के लिए गठबंधन पर चर्चा चल रही है. मैंने स्पष्ट कर दिया है कि अलायंस के लिए राज्य स्तर पर हमारी कोई बातचीत नहीं चल रही है. मेरा मानना है कि न ही केंद्रीय स्तर पर बातचीत हो रही है.

बता दें की मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की विधानसभा के चुनाव आगामी नवंबर 2018 में होना हैं.  हाल ही में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने हाल ही में एमपी में कांग्रेस-बसपा के गठबंधन के संकेत दिए थे. कमलनाथ ने बीएसपी से गठबंधन के सवाल पर कहा था कि बीजेपी विरोधियों पर कांग्रेस की नजर है. साल 2014 में बीजेपी मात्र 31% वोट से सत्ता में आई थी. ऐसे में बीजेपी को रोकने के सभी प्रयास जरूर किए जाएंगे.

कांग्रेस ने कभी बीएसपी का नाम लिया
एमपी  कांग्रेस के मीडिया विभाग के प्रमुख माणक अग्रवाल ने कहा कि गठबंधन करने के बारे में हमने किसी दल का नाम नहीं लिया है. हमारी पार्टी ने सिर्फ इतना कहा है कि कांग्रेस समान विचार वाली पार्टियों से मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में गठबंधन करने का प्रयास करेगी. हमने कभी बीएसपी का नाम नहीं लिया.

बीजेपी ने चुटकी
बीजेपी ने चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस के साथ जो भी पार्टी गई उसकी हालत खराब हो जाती है. बीएसपी इसीलिए कांग्रेस से दूरी बनाना चाहती है. कांग्रेस विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जहां राज्य में किसानों और युवाओं के बीच अपना जनाधार बढ़ाने में लगी है. वहीं 15 साल से सत्तारूढ़ बीजेपी सरकार की एंटी कमबेंसी लहर का फायदा उठाने कई लोकलुभावन आश्वासन देते हुए नजर आ रही है. साथ ही कांग्रेस अन्य दलों से गठजोड़ करने की तैयारी करते हुए दिखाई दे रही है.

कांग्रेस गठबंधन का झूठा प्रचार
एमपी बीसपी प्रदेश अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद अहिरवार ने कहा कि कांग्रेस मध्य प्रदेश में गठबंधन को लेकर झूठा प्रचार कर रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के इस झूठे प्रचार से उनकी पार्टी को नुकसान हो रहा है. बीएसपी प्रदेश अध्यक्ष ने दावा किया कि प्रदेश में बीएसपी 50 से 55 सीटें जीतेगी. उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस नेता जनता के बीच जाकर कह रहे हैं कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीएसपी के साथ गठबंधन के लिए कांग्रेस की बातचीत चल रही है.

एमपी के चुनावी मैदान में बीएसपी-एसपी सक्रिय
मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के मैदान में मुकाबला मुख्यरूप से दो प्रमुख पार्टियों कांग्रेस और बीजेपी के बीच ही है. लेकिन कुछ दिनों पहले ही एसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने एमपी के चुनावी समर में पार्टी की मौजूदी और चुनावी मैदान में अपने कैंडिडेट्स उतारने का फैसला लिया है. वहीं बीएसपी अपने वोटर्स के बीच अपनी पकड़ बनाने में जुटी हुई है.

कांग्रेस से कोई बातचीत नहीं
बीएसपी का कहना है कि वह एमपी विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी से गठबंधन नहीं करेगी. बीएसपी ने रविवार को कांग्रेस से गठबंधन की चर्चाओं का खंडन किया है. बीएसपी ने कहा कि राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के साथ उसकी कोई बातचीत नहीं हो रही है.

बीएसपी का ऐलान- सभी 230 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव
मध्य प्रदेश के बीएसपी प्रदेश अध्यक्ष अहिरवार ने कहा, ‘अगर आज की बात करें, हम सभी 230 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने जा रहे हैं. इस संबंध में मुझे केंद्रीय नेतृत्व से कोई दिशा निर्देश प्राप्त नहीं हुए हैं.” एमपी बीएसपी चीफ ने ये बात तब कही जब उनसे पूछा गया था कि क्या बीएसपी और कांग्रेस मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव में हाथ मिलाने जा रहे हैं.