नई दिल्ली: एक 25 साल की युवती से रेप के आरोप से घिरे स्वघोषित धर्मगुरु दाती मदन महाराज को आखिर मंगलवार को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंचना पड़ा. यहां वे क्राइम ब्रांच के अफसरों के सामने पेश हुए. बता दें कि एक युवती ने दक्षिण दिल्ली में फतेहपुर बेरी पुलिस थाने में दाती महाराज के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज कराई थीं. इसके बाद यह मामला अपराध शाखा को स्थानांतरित कर दिया गया था.

क्राइम ब्रांच ने दाती महाराज को नोटिस जारी कर सोमवार को ऑफिस में पेश होने के लिए कहा था, लेकिन वह सोमवार को नहीं आया और अपने वकीलों को दिल्ली पुलिस के पास भेजकर पेश होने के लिए एक सप्ताह का समय मांगा था, पुलिस ने मोहलत देने से इनकार कर दिया था. उन्हें दोबारा पेश होने के लिए बुधवार को कहा था. लेकिन पुलिस के बढ़ते दबाव को देख कर दाती महाराज मंगलवार को दोपहर करीब 3.20 दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंचे, जहां उनसे पूछताछ जारी है.

कोर्ट ने क्राइम ब्रांच से स्टेटस रिपोर्ट तलब की
दिल्ली की साकेट कोर्ट ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के जांच अधिकारी से 21 जून तक स्टेटस रिपोर्ट तलब की है. कोर्ट में एक शिकायत दर्ज कराई गई है इसमें पुलिस पर कार्रवाई में देरी करने का आरोप लगाया गया है.

राजस्थान के आश्रमों में पहुंची थी दिल्ली पुलिस
दिल्ली पुलिस की एक टीम बीते 15 मई को शिष्या से रेपी के आरोपी बाबा दाती महाराज के राजस्थान स्थित एक आश्रम में गई थी. एक जिला पुलिस अधिकारी ने बताया कि टीम के साथ बलात्कार पीड़िता भी थी। टीम को दाती महाराज पाली स्थित आश्रम में नहीं मिला था. उन्होंने कहा कि टीम ने पीड़िता के आरोपों की पुष्टि के लिए आश्रम का निरीक्षण किया था.

साउथ दिल्ली के थाने में 10 को रेप केस दर्ज
युवती ने बीते 10 मई को साउथ दिल्ली में फतेहपुर बेरी पुलिस थाने में दाती महाराज के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थीं. इसके बाद यह मामला अपराध शाखा को स्थानांतरित कर दिया गया था.

बाबा और शिष्यों ने कई आश्रमों में किया था रेप
महिला ने आरोप लगाया है कि दाती महाराज के दिल्ली और राजस्थान स्थित आश्रमों में उसका यौन उत्पीड़न किया गया और उसने अपनी शिकायत में स्वयंभू बाबा के दो पुरुष शिष्यों के भी नाम लिए.महिला ने पुलिस को बताया कि वह एक दशक से दाती महाराज की एक शिष्या थी, लेकिन उसके साथ बलात्कार किए जाने के बाद वह राजस्थान में अपने घर लौट गई थी.

शिष्या जबरन भेजती थी दाती के कमरे में
युवती ने आरोप लगाया है कि दाती महाराज की एक महिला शिष्या उसे दाती के कमरे में जबरन भेजती थी. मना करने पर धमकाती थी कि वह सभी से कहेगी कि वह दूसरे चेलों के साथ भी यौन संबंध बनाती है. वह करीब दो साल पहले आश्रम से भाग गई थी और लंबे समय से अवसाद में थी. अवसाद से उबर कर उसने अपने माता- पिता को पूरी बात बताई और उनके साथ पुलिस को शिकायत दी है.

लुकआउट सर्कुलर जारी हुआ था
दिल्ली महिला आयोग ने हाल में दाती महाराज को गिरफ्तार किये जाने की मांग की थी. इससे पहले , दिल्ली पुलिस ने दाती महाराज के खिलाफ एक लुकआउट सर्कुलर जारी किया ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि वह देश छोड़कर नहीं जा पाए.