BREAKING NEWS
post viewed 293 times

ट्रेनी महिला पुलिस अफसरों से बदसलूकी, नाइटी में कराई परेड

phq560_1529405753_618x347

छत्तीसगढ़ राज्य पुलिस अकादमी की ट्रेनी महिला पुलिस अफसरों ने एक सीनियर अधिकारी पर बदसलूकी के गंभीर आरोप लगाए हैं. ट्रेनी महिला अफसरों का आरोप है कि उनके ट्रेनर ASP मिर्जा जियारत बेग उनके साथ अश्लील गाली-गलौज करते हैं और देर रात उनसे नाइटी पहने-पहने ही परेड करवाई जाती है.

हालांकि अनुशासन का हवाला देते हुए किसी शिकायतकर्ता महिला ट्रेनी अफसर या आरोपी अधिकारी जियारत बेग ने कैमरे पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

रायपुर SP को भेजी शिकायती चिट्ठी

जानकारी के मुताबिक, करीब दर्जन भर महिला ट्रेनी पुलिस अफसरों ने इस संबंध में रायपुर के SP को एक शिकायती पत्र भेजा है.

महिला ट्रेनी पुलिस अफसरों की शिकायत है कि जियारत बेग उनके सामने ही अभद्र व्यवहार और अश्लील भाषा का प्रयोग करते हैं. उनका यह भी आरोप है कि देर रात अचानक उन्हें उठा दिया जाता है और रात के कपड़े में ही उनसे पुरुष पुलिस अफसरों के सामने परेड कराई जाती है.

इस बात की दी जा रही है सजा

उन्होंने यह आरोप भी लगाया है कि रात में उनके कमरे का दरवाजा खुलवाने के लिए अधिकारी उस्ताद व मेजर को भेज देते हैं. शिकायतकर्ता महिला अफसरों का कहना है कि पिछले दिनों पुलिस अकादमी के पूर्व SP और सरगुजा के मौजूदा SP सदानंद कुमार से ट्रेनी अफसरों ने मुलाकात की थी.

महज इतनी सी बात से नाराज होकर जियारत बेग ने सभी ट्रेनी डीएसपी को वर्दी सहित डेढ़ किलोमीटर की परेड लगवाई थी. आरोप के मुताबिक इस मुलाकात से भड़के एएसपी बेग ने उन्हें 15 दिनों तक प्रताड़ित किया.

खराब इलाज, भोजन का भी आरोप

शिकयातकर्ता महिला ट्रेनी अफसरों का कहना है कि यहां स्त्रियों के लिए अच्छा वातावरण नहीं है. बीमार होने पर उन्हें ठीक से उपचार तक नहीं दिया जाता. उनका कहना है कि उन्हें जो खाना दिया जाता है वह नियत मानक का नहीं होता.

इतना ही नहीं अपने शिकायती पत्र में उन्होंने कहा है कि उन्हें दी जा रही यातनाएं किसी को न बताने के लिए उन्हें धमकाया भी जाता है. धमकी देते हुए आरोपी अफसर उन्हें दंडित करने, रोजनामचे में एंट्री न करने देने और सर्विस बुक खराब करने की बात कहते हैं.

आरोपी अफसर ने किया आरोपों से इनकार

महिला ट्रेनी अफसरों द्वारा लगाए गए आरोपों पर एएसपी जियारत बेग ने कैमरे पर तो कुछ भी कहने से इनकार कर दिया. हालांकि उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद जरूर बताया.

इस पूरे मामले में हैरानी वाली बात यह है कि महिला ट्रेनी अफसरों की शिकायत मिलने के बावजूद पुलिस अकादमी की DIG ने तत्काल कार्रवाई की जरूरत नहीं समझी और छुट्टी पर चले गए.

आजतक ने जब पुलिस अकादमी के DIG आरएस नायक से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि अभी वह छुट्टी पर हैं और छुट्टी पर जाने से पहले उन्हें शिकायत मिल गई थी. उनके मुताबिक उन्होंने रायपुर के SP को इस मामले में जांच के लिए निर्देश दे दिया है.

आरएस नायक के मुताबिक जहां तक नाईट कॉल का सवाल है, वह ट्रेनिंग का हिस्सा है. लेकिन अश्लील और अभद्र बातों का आरोप लगाया गया है, उसकी जांच होगी. उन्होंने यह भी कहा कि  कभी कभी ट्रेनिंग से बचने के लिए भी इस तरह की शिकायतें की जाती हैं.

रायपुर के SP अमरेश मिश्रा से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि अभी जांच जारी है, जल्द ही रिपोर्ट उनके सामने होगी.

Be the first to comment on "ट्रेनी महिला पुलिस अफसरों से बदसलूकी, नाइटी में कराई परेड"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*