BREAKING NEWS
post viewed 501 times

मंदसौर गैंगरेप: 7 साल की बच्ची के पिता ने कहा-मुआवजा नहीं चाहिए, दोषियों को मिले फांसी

pjimage-59

बच्ची का हालत में सुधार, कांग्रेस ने निकाला कैंडल मार्च, बच्ची के पिता ने की फांसी की मांग

श्यामदास बैरागी/मंदसौर – मध्य प्रदेश के मंदसौर में गैंगरेप की शिकार सात वर्षीय स्कूली छात्रा की सर्जरी के बाद उसकी हालत में लगातार सुधार हो रहा है. पीड़ित बच्ची मंदसौर से करीब 200 किलोमीटर दूर इंदौर के अस्पताल में 27 जून की रात से भर्ती है. एमवायएच के अधीक्षक वीएस पाल ने बताया कि बच्ची की हालत खतरे से बाहर है. उसकी सेहत में लगातार सुधार हो रहा है. उन्होंने बताया कि पीड़ित बच्ची की सेहत पर एमवायएच के विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम बराबर नजर रख रही है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशों पर निजी क्षेत्र के दो बाल शल्य चिकित्सकों की सलाह भी ली जा रही है, ताकि बच्ची के इलाज में कोई कोर-कसर न रहे.

महिला एवं बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनीस ने बताया कि सीएम ने पीड़ित बच्ची के पिता के बैंक एकाउंट में 5 लाख रुपए ट्रांसफर किए हैं. उन्होंने उम्मीद जताई की पुलिस जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लेगी. उन्होंने कहा कि दोषियों को कड़ी सजा दिलाने की कोशिश करेंगे. बच्ची के इलाज का खर्च राज्य सरकार उठाएगी और उसकी पढ़ाई लिखाई का भी ख्याल रखेगी. पीड़ित बच्ची के पिता ने कहा कि उन्हें किसी तरह का मुआवजा नहीं चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि दोषियों को फांसी पर लटका दिया जाए.

I do not want any compensation. I just want the accused to be hanged: Father of the 8-year-old girl who was allegedly raped In Mandsaur #MadhyaPradesh (30.06.18) pic.twitter.com/KfcoZzMvLf

— ANI (@ANI) July 1, 2018

कांग्रेस का कैंडल मार्च
वहीं इस मुद्दे पर बीजेपी को घेरते हुए शनिवार रात यहां वरिष्ठ कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की अगुआई में सूबे के प्रमुख विपक्षी दल ने कैंडल मार्च निकाला. मधुमिलन चौराहा स्थित नेहरू प्रतिमा से रीगल तिराहा स्थित गांधी प्रतिमा तक निकाले गये मोमबत्ती जुलूस में सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल हुए. इससे पहले, सिंधिया शहर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय पहुंचे, जहां सामूहिक बलात्कार की पीड़ित बच्ची भर्ती है. उन्होंने डॉक्टरों से बच्ची का हाल-चाल जाना और बच्ची के परिजन से मुलाकात की.

राहुल गांधी ने जताया दुख
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस घटना पर दुख जताते हुए कहा कि अपने बच्चों की सुरक्षा और दोषियों को जल्द से जल्द सजा सुनिश्चित करने के लिए हमें एक राष्ट्र के तौर पर एकजुट होना होगा. राहुल ने ट्वीट कर कहा, ‘मंदसौर में आठ साल की बच्ची का अपहरण किया गया और उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया. यह बच्ची जीवन के लिए संघर्ष कर रही है. इस बच्ची के साथ हुई बर्बरता से व्यथित हूं.’ उन्होंने कहा, ‘ अपने बच्चों की सुरक्षा और गुनाहगारों को त्वरित न्याय की जद में लाने के लिए हमें एक राष्ट्र के तौर पर एकसाथ आना होगा.

बीजेपी विधायक ने अफसोस जताया
गैंगरेप के मामले में बीजेपी के स्थानीय विधायक सुदर्शन गुप्ता ने अपनी विवादित टिप्पणी को लेकर अफसोस जताया. पीड़ित बच्ची के परिजन के सामने भाजपा विधायक की इस विवादित टिप्पणी के कारण सत्तारूढ़ दल को सियासी हलकों से लेकर सोशल मीडिया तक भारी फजीहत झेलनी पड़ रही है. अस्पताल में मुलाकात के दौरान कथित तौर पर कहा था कि उन्हें क्षेत्रीय भाजपा सांसद सुधीर गुप्ता को “धन्यवाद” देना चाहिये, क्योंकि वह उनकी बच्ची के हाल-चाल जानने के लिये “खासतौर पर” मंदसौर से इंदौर पहुंचे.

अपनी इस “सलाह” के कारण तीखी आलोचना का सामना कर रहे भाजपा विधायक ने यहां एक बयान में कहा, “मंदसौर में बच्ची के साथ दुष्कर्म से हम सब दु:खी और व्यथित हैं. इस जघन्य अपराध के खिलाफ हम सब पीड़ित परिवार के साथ हैं. इस प्रकरण में मेरी किसी भी बात से किसी व्यक्ति की भावनाएं आहत हुई हों, तो मैं गहरा दु:ख प्रकट करता हूं.”

Be the first to comment on "मंदसौर गैंगरेप: 7 साल की बच्ची के पिता ने कहा-मुआवजा नहीं चाहिए, दोषियों को मिले फांसी"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*