BREAKING NEWS
post viewed 206 times

PM करेंगे उद्घाटन -देश का सबसे लंबा हाई-वे होगा ‘पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे’

express-way

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार लखनऊ से गाजीपुर तक देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस वे बनाने की तैयारी कर रही है. इसे ‘पूर्वांचल एक्सप्रेस वे’ नाम दिया गया है. 14 जुलाई, 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसकी आधारशिला रखेंगे. 354 किलोमीटर लंबा पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे लखनऊ से शुरू होकर बाराबंकी, फैजाबाद, अंबेडकरनगर, अमेठी, सुल्तानपुर, आजमगढ़, मऊ और गाजीपुर से होकर गुजरेगा. ये ऐसा एक्सप्रेस-वे होगा जिसपर शायद ही कभी जाम की समस्या हो. एक्सप्रेस-वे के जरिए लखनऊ से गाजीपुर की यात्रा साढ़े 4-5 घंटे में पूरी होगी. India.com अपने रीडर्स को बता रहा है एक्सप्रेस-वे जुड़ी खास बातें…

1. यूपी में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे लखनऊ से गाजीपुर तक बनेगा. लखनऊ के चंदसराय गांव से शुरू होगा एक्सप्रेसवे और गाजीपुर के हैदरिया गांव तक बनेगा. दिल्ली से गाजीपुर की दूरी कम होगी

2. पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे 353 किलोमीटर लंबा होगा. ये देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे होगा.

3. एक्सप्रेस-वे लखनऊ के चंदसराय गांव से शुरू होगा और गाजीपुर के हैदरिया गांव तक बनेगा.

4. लखनऊ से गाजीपुर की यात्रा एक्सप्रेस-वे बनने के बाद साढ़े 4 से 5 घंटे में पूरी होगी.

5. पूर्वांचल एक्सप्रेस वे लखनऊ, बाराबंकी, फैज़ाबाद, अंबेडकरनगर, अमेठी, सुल्तानपुर, आज़मगढ़, मऊ और गाजीपुर से होकर गुजरेगा.

6. एक्सप्रेस-वे 6 लेन का होगा, जो कि 8 लेन तक बढ़ सकेगा.

7. इस एक्सप्रेस वे को अयोध्या, इलाहाबाद, वाराणसी और गोरखपुर से लिंक रोड के माध्यम से जोड़ा जाएगा.

8. पूर्वांचल एक्सप्रेस वे में आजमगढ़ से गोरखपुर के लिए नया लिंक एक्सप्रेस-वे बनाया जाएगा. ये लगभग 100 किलोमीटर का लिंक एक्सप्रेस-वे होगा, जो योगी के गृह जनपद को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से जोड़ेगा.

9. 2 साल 6 महीने में एक्सप्रेस-वे का कार्य पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है

10. इस एक्सप्रेस-वे की खासियत ये होगी कि ये सभी बाजारों के नजदीक से होकर गुजरेगा.

अखिलेश ने इस एक्सप्रेस-वे को बताया था ड्रीम प्रोजेक्ट
यूपी के सीएम रहे अखिलेश यादव ने दिसंबर 2016 को जब इस परियोजना का शिलान्यास किया था, तब इसका बजट 20 हजार करोड़ रुपए बताया गया था. इसमें से 7 हजार करोड़ रुपए भूमि अधिग्रहण में खर्च होने थे. इसका शिलान्यास करते हुए तब अखिलेश ने कहा था कि यदि हम सत्ता में लौटे तो तो आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे की तरह इस एक्सप्रेस-वे का उद्धाटन भी शानदार होगा. अखिलेश यादव ने इसे अपना दूसरा बड़ा ड्रीम प्रोजेक्ट बताया था.

पीएम द्वारा इसलिए फिर से हो रहा शिलान्यास
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 जुलाई 2018 को पूर्वांचल एक्सप्रेस करेंगे. इस एक्सप्रेस-वे के बनने के बाद लखनऊ और गाजीपुर आपस में जुड़ जाएंगे. बताया जा रहा है कि जब अखिलेश ने इसका शिलान्यास किया था तब पूरी परियोजना के लिए आधी जमीन अधिग्रहित नहीं की गई थी. 2017 में उत्तर प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद बीजेपी सरकार ने परियोजना को यह बताते हुए रद्द कर दिया था कि जमीन की कमी है. इसके बाद बीजेपी सरकार ने कुछ बदलाव किए और परियोजना फिर से शुरू हो रही है. पीएम मोदी फिर से शुरू हो रही इस परियोजना की नींव रखेंगे.

पीएम मोदी 14 जुलाई, 2018 को इस परियोजना का शिलांयास करेंगे. 2016 में अखिलेश ने इसी परियोजना का शिलांयास किया था.

लखनऊ: इसी माह 14 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 354 किलोमीटर लंबे ‘पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे’ का शिलान्यास करेंगे. ये एक्सप्रेस-वे 354 किलोमीटर लंबा होगा. ये भारत का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे होगा. बता दें कि ये वही ‘पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे’ है जिसका शिलान्यास दिसंबर, 2016 को यूपी के तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव कर चुके हैं.

पीएम द्वारा इसलिए फिर से हो रहा शिलान्यास
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 जुलाई 2018 को पूर्वांचल एक्सप्रेस करेंगे. इस एक्सप्रेस-वे के बनने के बाद लखनऊ और गाजीपुर आपस में जुड़ जाएंगे. बताया जा रहा है कि जब अखिलेश ने इसका शिलान्यास किया था तब पूरी परियोजना के लिए आधी जमीन अधिग्रहित नहीं की गई थी. 2017 में उत्तर प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद बीजेपी सरकार ने परियोजना को यह बताते हुए रद्द कर दिया था कि जमीन की कमी है. इसके बाद बीजेपी सरकार ने कुछ बदलाव किए और परियोजना फिर से शुरू हो रही है. पीएम मोदी फिर से शुरू हो रही इस परियोजना की नींव रखेंगे.

अखिलेश ने इस एक्सप्रेस-वे को बताया था ड्रीम प्रोजेक्ट
यूपी के सीएम रहे अखिलेश यादव ने दिसंबर 2016 को जब इस परियोजना का शिलान्यास किया था, तब इसका बजट 20 हजार करोड़ रुपए बताया गया था. इसमें से 7 हजार करोड़ रुपए भूमि अधिग्रहण में खर्च होने थे. इसका शिलान्यास करते हुए तब अखिलेश ने कहा था कि यदि हम सत्ता में लौटे तो तो आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे की तरह इस एक्सप्रेस-वे का उद्धाटन भी शानदार होगा. अखिलेश यादव ने इसे अपना दूसरा बड़ा ड्रीम प्रोजेक्ट बताया था.

पूर्वी यूपी को पश्चिमी यूपी से जोड़ेगा एक्सप्रेस-वे
फाइनेंशियल एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, एक्सप्रेस-वे लखनऊ के चंदसराय से गाजीपुर के हैदरिया को जोड़ेगा. इसके अलावा ये एक्सप्रेस-वे एक अलग लिंक रोड के माध्यम से होते हुए वाराणसी से भी जुड़ेगा. एक्सप्रेस-वे यूपी के लखनऊ, गाजीपुर, आजामगढ़, फैजाबाद, अमेठी, बाराबंकी, अम्बेडकरनगर, मउ और सुल्तानपुर को भी जोड़ेगा. इसके अलावा एक्सप्रेस-वे 165 किलोमीटर लंबे आगरा-ग्रेटर नोएडा यमुना एक्सप्रेस-वे और 302 किमी लंबे आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के माध्यम से राष्ट्रीय राजधानी में भी जोड़ देगा. बताया जा रहा है कि इस एक्सप्रेस-वे को 8 लेन तक विस्तारित किया जा सकता है. ये एक्सप्रेस-वे पूर्वी यूपी को पश्चिमी यूपी से जोड़ेगा.

SHAREShare on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0

Be the first to comment on "PM करेंगे उद्घाटन -देश का सबसे लंबा हाई-वे होगा ‘पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे’"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*