BREAKING NEWS
post viewed 90 times

महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर को फर्जी डिग्री की वजह से डीएसपी का पद छीन कांस्टेबल पद ग्रहण करने का प्रस्ताव

pjimage-18

चंडीगढ़: फर्जी डिग्री मामले में पंजाब सरकार ने महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर को डीएसपी के पद से हटाने का फैसला किया है हालांकि सरकार उनके खिलाफ कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं करेगी. सरकार ने हालांकि कौर के सामने 12वीं की डिग्री के आधार पर कांस्टेबल बनने का प्रस्ताव रखा है.

HIGHLIGHTS

  • महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर से छीना जाएगा डीएसपी का पद

  • पुलिस की जांच में हरमनप्रीत की डिग्री निकली फर्जी

  • हरमनप्रीत ने चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी की डिग्री जमा कराई थी

सरकार और पुलिस सूत्रों ने बताया है कि टी-20 टीम की कप्तान के खिलाफ फर्जी डिग्री जमा करने और धोखाधड़ी से संबंधी किसी तरह की कार्रवाई नहीं की जाएगी. इसे लेकर कौर के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज हो सकता था. हाल ही में पंजाब पुलिस ने बताया था कि हरमनप्रीत ने डीएसपी बनने के लिए जो डिग्री जमा कराई थी, वो फर्जी है.

पंजाब पुलिस ने मेरठ स्थित चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में इससे संबंधी जांच की थी, जिसमें इस बात का खुलासा हुआ था कि हरमनप्रीत सिंह की ग्रेजुएशन की डिग्री फर्जी है. राज्य सरकार ने उन्हें 12वीं की डिग्री के आधार पर कांस्टेबल पद ग्रहण करने का प्रस्ताव दिया है.

हरमनप्रीत को एक मार्च को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पुलिस महानिदेशक सुरेश अरोड़ा ने डीएसपी पद पर नियुक्त किया था. उन्हें यह पद इंग्लैंड में खेले गए महिला विश्व कप में शानदार प्रदर्शन के बाद मिला था. इससे पहले हरमनप्रीत रेलवे की अधिकारी थीं.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें रेलवे से अपने राज्य में नौकरी दिलाई थी. रेलवे के साथ उनका करार था लेकिन पंजाब के मुख्यमंत्री के हस्तक्षेप के बाद रेलवे ने कौर को इस करार से मुक्त कर दिया था, जिसके बाद ही वह पंजाब पुलिस में नौकरी हासिल कर सकी थीं.

ऐसे मिली थी DSP की नौकरी
बता दें कि हरमनप्रीत कौर को स्पोर्ट्स कोटे से पंजाब पुलिस में DSP का पद दिया गया था. भारतीय महिला टीम की मौजूदा कप्तान हरमनप्रीत ने अपने दम पर टीम इंडिया को कई बेमिसाल जीत दिलाई है. ICC महिला वर्ल्डकप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार प्रदर्शन से उन्होंने सबका सबका दिल जीता था, जिसके बाद पंजाब पुलिस ने उन्हें DSP का पोस्ट ऑफर किया था.

पंजाब पुलिस में DSP के पोस्ट के लिए हरमनप्रीत ने जब रेलवे की नौकरी छोड़ी तो रेलवे ने उन्हें रिलीज नहीं किया. लेकिन पंजाब सरकार के प्रयासों की वजह से रेलवे को झुकना पड़ा और हरमनप्रीत ने DSP बनने का गौरव हासिल किया था लेकिन अब फर्जी डिग्री की वजह से उन्हे ये पद छोड़ना पड़ेगा.

Be the first to comment on "महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर को फर्जी डिग्री की वजह से डीएसपी का पद छीन कांस्टेबल पद ग्रहण करने का प्रस्ताव"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*