BREAKING NEWS
post viewed 82 times

कीचड़ में कमल देखा लेकिन गड्ढे में कमल’ कांग्रेस का अनोखा……….!

pitholes

सुरेंद्र कुमार

बारिश के कारण गड्ढामय हो गई मुंबई की सड़कों की तरफ सरकार का ध्यान खींचने के लिए मुंबई कांग्रेस ने अनोखा आंदोलन शुरू किया है। इस आंदोलन को ‘गड्ढे गिनो आंदोलन’ नाम दिया गया है। इसमें कांग्रेस के कार्यकर्ता अपने-अपने इलाकों में सड़कों पर बने गड्ढे का पहले फोटो खीचेंगे और उसके बाद उसे भर कर उस पर ‘कमल का फूल’ चढ़ाएंगे।
मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम के नेतृत्व में गुरुवार को इस आंदोलन की शुरुआत हुई। सायन प्रतीक्षा नगर से शुरू हुए मुंबई कांग्रेस के इस अनोखे आंदोलन में पूर्व सांसद एकनाथ गायकवाड, मनपा में नेता विपक्ष रवि राजा, मुंबई कांग्रेस के महासचिव भूषण पाटील, मुंबई महिला कांग्रेस की अध्यक्षा डॉ. अजंता यादव, मुंबई कांग्रेस अनुसूचित जाति-जनजाति के अध्यक्ष कचरु यादव समेत बड़ी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।

इस मौके पर निरुपम ने कहा कि मुंबई शहर की लगभग हर सड़क पर गड्ढे हैं। इन गड्ढों के कारण मुंबई के लोगों का सड़क पर चलना और गाड़ी चलाना दूभर हो गया है। हर साल इन गड्ढों की वजह से दुर्घटनाएं होती हैं, लोग मरते हैं, लेकिन सरकार का ध्यान इस तरफ नहीं है।

कमल का फूल ही क्यों?
 pitholes
निरुपम ने कहा कि हमने कमल का फूल इसलिए चुना है क्योंकि यह भाजपा का चुनाव चिह्न है। भाजपा से त्रस्त जनता सड़क से गुजरते वक्त फिलहाल इन्हें अपने पैरों और वाहनों तले कुचलेगी और बाद में अपने वोट से समूची भाजपा को ही कुचल कर सत्ता से बाहर कर देगी।

भ्रष्टाचार का सबूत हैं गड्ढे
निरुपम ने कहा कि हर साल मुंबई में सड़कों के गड्ढे भरने के नाम पर करोडों रुपये खर्च किए जाते हैं, लेकिन हकीकत में एक रुपये का काम नहीं होता। आखिर यह पैसा जाता कहां है? मुंबई की सड़कों पर इन दिनों जो गड्ढे हैं, वे बीएमसी में होने वाले भ्रष्टाचार के सबूत हैं।

मुख्यमंत्री की गलत जानकारी
निरुपम ने कहा कि नागपुर में चल रहे विधानमंडल के मॉनसून सत्र में मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि मुंबई की सड़कों पर एक भी गड्ढा नहीं है। सारे गड्ढे भर दिए गए हैं। बीएमसी कमिश्नर स्टैंडिंग कमिटी में जानकारी देते हैं कि मुंबई में सब कुछ सही चल रहा है। खुलेआम झूठ बोलने के लिए मुख्यमंत्री और बीएमसी कमिश्नर को जनता से माफी मांगनी चाहिए।

SHAREShare on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0

Be the first to comment on "कीचड़ में कमल देखा लेकिन गड्ढे में कमल’ कांग्रेस का अनोखा……….!"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*