BREAKING NEWS
post viewed 88 times

असम की इस लड़की ने भारत के लिए सोना जीत कर इतिहास रच दिया है !

hima-kicker-extra-large_071318100252

वो लड़की जिसके कोच ने कहा कि वो हवा की तरह दौड़ती है.

हिमा दास इस वक़्त देश के हर न्यूज चैनल पर छाई हुई हैं. बनता भी है, उन्होंने अंडर 20 वर्ल्ड चैंपियनशिप में 400 मीटर की दौड़ में गोल्ड जीत लिया है. ऐसा करने वाले वो भारत की पहली लड़की और ट्रैक एथलीट हैं. किसी भारतीय पुरुष ने भी अभी तक कोई मेडल नहीं जीता है इस कैटेगरी में. इस कम्पटीशन को वर्ल्ड जूनियर एथलेटिक्स कहते हैं.

हिमा भारत की पहली एथलीट हैं जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रनिंग में गोल्ड जीता है. फोटो: Getty Images हिमा भारत की पहली एथलीट हैं जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रनिंग में गोल्ड जीता है. फोटो: Getty Images
  1. ये प्रतियोगिता फ़िनलैंड में हो रही है. इसमें 20 साल से कम उम्र के खिलाड़ी भाग लेते हैं.
  2. हिमा दास असम के नागाओं जिले के धिंग गांव से हैं. शौक फुटबॉल का था. कोच निपोन दास ने उनको खेलते देखा और एथलेटिक्स में आने को कहा.
  3. ये गोल्ड मेडल जीतने से पहले हिमा ने अपनी पहली दौड़ सिर्फ डेढ़ साल पहले दौड़ी थी. उससे पहले तक हिमा का रनिंग से कोई लेना देना नहीं था. उनकी ये पहली कॉम्पटीटिव दौड़ असम के शिवसागर जिले में हुई थी.
  4. हिमा की खासियत है कि वो आखिरी के 80 मीटरों में तेज़ी से दौड़ कर जीत हासिल कर लेती हैं.
    हिमा के कोच कहते हैं कि हिमा का टैलेंट भगवान् की देन है. फोटो: Getty Images हिमा के कोच कहते हैं कि हिमा का टैलेंट भगवान् की देन है. फोटो: Getty Images
  5. इस प्रतियोगिता में भी आखिर के लैप (चक्कर) तक वो चौथे नम्बर पर थीं. लेकिन अंत के आखिरी चंद सेकंडों में वो सबको पछाड़ कर निकल गईं.
  6. हिमा को ये रेस जीतने में टोटल 51.46 सेकण्ड लगे. उनका सबसे बेहतरीन प्रदर्शन अब तक का 51.13 सेकंड रह चुका है

7-इससे पहले इस वर्ल्ड चैंपियनशिप में सीमा पूनिया और नवजीत कौर ढिल्लों पदक जीत चुकी हैं. सीमा ने 2002 में डिस्कस थ्रो में कांस्य पदक जीता था, वहीं नवजीत ने डिस्कस थ्रो में ही कांस्य पदक 2014 में जीता था.

8-वहां हिमा के साथ एक और भारतीय लड़की दौड़ रही थी. जिसना मैथ्यू. लेकिन वो सेमी फाइनल्स से ही बाहर हो गईं.

9-हिमा ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग लिया था, लेकन वहां पर 400 मीटर वाली रेस में छठे स्थान पर रही थीं.

रेस के अंतिम क्षणों में हिमा. फोटो: Getty Images
रेस के अंतिम क्षणों में हिमा. फोटो: Getty Images
10-इसी दौड़ में दूसरे स्थान पर रोमानिया की एंड्रिया मिक्लोस रहीं, और USA की टेलर मैनसन ने तीसरा स्थान हासिल किया.

Be the first to comment on "असम की इस लड़की ने भारत के लिए सोना जीत कर इतिहास रच दिया है !"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*