BREAKING NEWS
post viewed 37 times

उम्‍मीद है कि एक दिन उदारवादी सरकार को सलाह देने लौटेंगे सुब्रमण्यम’-चिदंबरम

263409-chidambaram

मुख्य आर्थिक सलाहकार (CEA) अरविंद सुब्रमण्यम फाइनेंस मिनिस्ट्री छोड़ रहे हैं और वह ‘पारिवारिक जिम्मेदारियों’ के कारण अमेरिका लौट रहे हैं.

नई दिल्ली : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने मुख्य आर्थिक सलाहकार के पद से मुक्त हो रहे अरविंद सुब्रमण्यम को भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए शनिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और दावा किया कि इस सरकार ने सुब्रमण्यम की जीएसटी से जुड़ी रिपोर्ट को दरकिनार कर दिया तथा नई कर व्यवस्था को गलत ढंग से लागू किया.

पूर्व वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि वह आशा करते हैं कि आने वाले समय में सुब्रमण्यम एक उदारवादी, सुधारोन्मुखी और विचारों को स्वीकारने वाली सरकार को सलाह देने के लिए स्वदेश लौटेंगे. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ‘आज अरविंद सुब्रमण्यम के कामकाज का आखिरी दिन है. हम उनको शुभकामना देते हैं और आशा करते हैं कि वह एक दिन एक उदारवादी, सुधार की ओर अग्रसर और विचारों को स्वीकारने वाली सरकार को सलाह देने के लिए स्वदेश लौटेंगे.’

पूर्व वित्‍त मंत्री चिदंबरम ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार ने मुख्य आर्थिक सलाहकार की रिपोर्ट (जीएसटी संबंधी) को दरकिनार कर दिया और इसी तरह जीएसटी की दर को 18 प्रतिशत से नीचे रखने के हमारे आग्रह को भी खारिज कर दिया. चिदंबरम ने दावा किया कि नोटबंदी के बाद जीएसटी के गलत क्रियान्वयन ने लघु एवं मध्यम कारोबारों को बर्बाद कर दिया और लाखों लोगों की नौकरियां चली गईं. आप किसी व्यापारी से पूछिये, आपको सच्चाई का पता चल जाएगा.

मुख्य आर्थिक सलाहकार (CEA) अरविंद सुब्रमण्यम फाइनेंस मिनिस्ट्री छोड़ रहे हैं और वह ‘पारिवारिक जिम्मेदारियों’ के कारण अमेरिका लौट रहे हैं. केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने फेसबुक पोस्ट के जरिये यह जानकारी दी थी. सुब्रमण्यम को 16 अक्टूबर 2014 को वित्त मंत्रालय में मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया गया था. उनकी नियुक्ति तीन साल के लिए हुई थी. 2017 में उनका कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ाया गया था.

SHAREShare on Facebook1.4kShare on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0

Be the first to comment on "उम्‍मीद है कि एक दिन उदारवादी सरकार को सलाह देने लौटेंगे सुब्रमण्यम’-चिदंबरम"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*