BREAKING NEWS
post viewed 42 times

जघन्य आपराधिक मामलों के आरोपियों पर चुनाव लड़ने से रोक लगनी चाहिए: पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एस वाई कुरैशी

election-commission211-11-1

राजनीति के अपराधीकरण से सख्ती से निपटा जाना चाहिए, ये सही वक्त है चुनाव सुधार लागू करने का: कुरैशी

नई दिल्ली: पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी का कहना है कि आपराधिक रिकार्ड वाले लोगों के चुनाव लड़ने पर रोक लगा देनी चाहिए. वर्ष 2010 से 2012 तक मुख्य चुनाव आयुक्त रहे कुरैशी ने कहा कि यह उचित वक्त है जबकि देश में लंबे अरसे से लंबित चुनाव सुधारों को लागू किया जाना चाहिए. कुरैशी में सुझाव देते हुआ कहा कि जिन लोगों के खिलाफ ‘जघन्य’ आपराधिक मामले हैं, उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगा देनी चाहिए.

वीरप्पा मोइली की किताब का विमोचन
पूर्व कानून मंत्री एवं कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली की किताब ‘द व्हील ऑफ जस्टिस’ के विमोचन के मौके पर आयोजित चर्चा के दौरान पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त कुरैशी ने कहा कि, चुनाव सुधार से संबंधित 40 प्रस्ताव लंबित पड़े हैं. उन्होंने कहा कि राजनीति के अपराधीकरण से सख्ती से निपटा जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि बलात्कार, डकैती, हत्या और अपहरण जैसे जघन्य मामले, जिनमें पांच साल की सजा का प्रावधान है और अदालत ने आरोप तय कर दिए हैं, उसके आरोपियों के चुनाव लड़ने पर रोक लगाई जाए. (इनपुट भाषा)

Be the first to comment on "जघन्य आपराधिक मामलों के आरोपियों पर चुनाव लड़ने से रोक लगनी चाहिए: पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एस वाई कुरैशी"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*