BREAKING NEWS
post viewed 39 times

मनरेगा को कृषि क्षेत्र जोड़ने की योजना पर काम कर रही योगी सरकार

yogi-2

मनरेगा को जोड़कर खेती को बेहतर और उपयोगी बनाया जा सके जिससे किसानों की आय दोगुनी होगी.

 लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि मनरेगा को लेकर लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि मनरेगा के प्रति किसानों को जागरूक कर इसे खेती-किसानी से जोड़ने की जरूरत है. इसलिए सरकार नीति आयोग के निर्देश पर मनरेगा को किसानों से जोड़ने के लिए कार्यशालाएं आयोजित करा रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे खेती को बेहतर और उपयोगी बनाया जा सकेगा और किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी.

मुख्यमंत्री, बाबा साहब भीमराव आंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय के सभागार में आयोजित ‘कृषि से जुड़े क्षेत्रों में मनरेगा के उपयोग’ विषय पर आयोजित कार्यशाला में बोल रहे थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार खेती के ज्यादातर क्षेत्रों में मनरेगा के इस्तेमाल पर विचार कर रही है. इसके लिए किसानों से लेकर इस क्षेत्र में सक्रिय हर वर्ग से विचार करके फैसला लिया जाएगा ताकि मनरेगा को जोड़कर खेती को बेहतर और उपयोगी बनाया जा सके जिससे किसानों की आय दोगुनी होगी.

सीएम योगी ने कहा, “खेती से पहले, खेती के दौरान और खेती के बाद की परिस्थितियों में मनरेगा का इस्तेमाल कैसे हो, इसके लिए नीति आयोग के अनुरोध पर प्रदेश में चार स्थानों पर इस तरह की कार्यशालाओं का आयोजन किया गया है.”

उन्होंने कहा कि यह पहली कार्यशाला है. मेरठ, झांसी और गोरखपुर में ऐसी कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि इन कार्यशालाओं में किसानों से सीधा संवाद कर खेती में मनरेगा के उपयोग के रास्ते को तलाशा जाएगा, इस पहली कार्याशाला में लखनऊ, फैजाबाद, कानपुर, इलाहाबाद, देवीपाटन मंडल के जिलों के किसानों को बुलाया गया है. (इनपुट एजेंसी)

Be the first to comment on "मनरेगा को कृषि क्षेत्र जोड़ने की योजना पर काम कर रही योगी सरकार"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*