नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत की यात्रा पर आए उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शावकत मिर्ज़ियोयेव के साथ अपनी वार्ता को उपयोगी और सार्थक करार देते हुए उन्हें अपना अज़ीज दोस्त बताया. मोदी ने कहा, ”आपसे मेरा परिचय 2015 में मेरी उज़्बेकिस्तान यात्रा के दौरान हुआ था. आपकी भारत के प्रति सद्भावना एवं मित्रता और आपके व्यक्तित्व ने मुझे बहुत प्रभावित किया है. यह हमारी चौथी मुलाकात है. मुझे ऐसा महसूस होता है कि आप एक घनिष्ठ मित्र हैं. अज़ीज दोस्त हैं.

पीएम मोदी ने अपने प्रेस वक्तब्य में उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति के संदर्भ में ये बातें कहीं हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा, ”यह आपकी भारत की पहली राजकीय यात्रा है . यह यात्रा आप अपने परिवार और एक सशक्त शिष्टमंडल के साथ कर रहे हैं. आपका और आपके परिवार तथा शिष्टमंडल का स्वागत करते हुए मुझे बहुत हर्ष हो रहा है.”

उन्होंने कहा कि उज्बेकिस्तान और भारत के बीच समानताएं और नज़दीकी रिश्तों के गवाह दोनों देशों का साझा इतिहास और संस्कृति हैं. मेहमान, दोस्त और अज़ीज़– ऐसे कितने ही शब्द दोनों देशों में समान रूप से जाने जाते हैं.

मोदी ने कहा कि यह सिर्फ भाषा की समानता नहीं है. यह दिलों और भावनाओं का मिलन है. उन्होंने कहा कि उन्हें गर्व और प्रसन्नता भी है कि देशों के रिश्तों की बुनियाद इतनी मज़बूत है.