BREAKING NEWS
post viewed 69 times

बजरंग दल के नेता की हत्‍या के बाद बवाल,आक्रोशित भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस ने भांजी लाठियां

Noida

नोएडा: सट्टा, गांजा और अवैध व्यापार करने वाले लोगों का विरोध करने पर गुरुवार की रात को हुई बजरंग दल के नेता की हत्या के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. इस घटना से गुस्‍साए मृतक के परिजनों, बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के नेताओं और कार्यकर्ताओं और सेक्टर-8 झुग्गी वासियों ने सेक्टर-8 से लेकर थाना सेक्टर-20 परिसर तक में जमकर हंगामा किया. पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. थाने के सामने सड़क जाम कर प्रदर्शन किया. आक्रोशित भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया जिससे भगदड़ मच गई. प्रदर्शन कर रहे लोगों ने भी पुलिस पर पथराव किया जिसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े.

बजरंग दल व विहिप नेताओं ने एसपी सिटी सुधा सिंह के साथ वार्ता की और परिजनों को न्याय के साथ-साथ मुआवजा दिए जाने की मांग की. वहीं, मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी ने झुंडपुरा चौकी प्रभारी जेएस तोमर को निलंबित कर दिया. सट्टेबाजी को लेकर थाना पुलिस पर लग रहे आरोपों को देखते हुए एसएसपी ने एसपी क्राइम को थाना प्रभारी की भूमिका के जांच के आदेश दिए हैं. देर शाम पोस्टमार्टम के बाद जब अजय का शव सेक्टर-8 पहुंचा तो एक बार फिर परिजनों व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने शव रखकर रास्ता जाम कर दिया. प्रदर्शन की खबर मिलते ही भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया.

भीड़ को भगाने के लिए छोड़े आंसू गैस के गोले
पुलिस ने समझाने का प्रयास किया लेकिन शव रखकर प्रदर्शन पर अड़े परिजन डीएम व एसएसपी, विधायक व सांसद के मौके पर बुलाने की मांग पर अड़ गए. जिसके बाद आक्रोशित भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया जिससे भगदड़ मच गई. प्रदर्शन कर रहे लोगों ने भी पुलिस पर पथराव किया जिसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और अजय के शव व उनके परिजनों को अपने साथ ले गई और देर रात उसका अंतिम संस्कार करा दिया. क्षेत्र में तनाव को देखते हुए देर रात तक पीएसी व पुलिस अधिकारी सेक्टर-8 में डटे रहे. पुलिस पर पथराव करने वालों के खिलाफ थाना सेक्टर 20 में मामला दर्ज हुआ है.

पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया
पुलिस उपाधीक्षक नगर अवनीश कुमार ने बताया कि सेक्टर 8 में रहने वाले अजय चौधरी की बृहस्पतिवार देर रात गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में उनके भाई विजय चौधरी ने थाना सेक्टर 20 में अशरफ उर्फ गटवा, जफर, सरताज, रफीक, सिताबू, जीतू यादव तथा दो अन्य अज्ञात लोगों को नामित करते हुए हत्या का मामला दर्ज कराया है. उन्होंने बताया कि मृतक अजय चौधरी बजरंग दल के नेता थे. पुलिस ने तीन आरोपियों सिताबू, जफर व सरताज को तड़के गिरफ्तार कर लिया. अन्य लोगों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है. (इनपुट एजेंसी)

SHAREShare on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0

Be the first to comment on "बजरंग दल के नेता की हत्‍या के बाद बवाल,आक्रोशित भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस ने भांजी लाठियां"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*